शायरी मोहब्बत । shayari mohabbat । लव शायरी। बेस्ट शायरी।

 

Latest love shayari

हर पल मोहब्बत रहेगा आपसे,

हम वादा करते हैं आपसे।
ये मत समझना कि भूल जायेगें हम तुझे,
जिंदगी भर साथ रहने का वादा हैं आपसे।

         

 

 
Har pal mohabbat rahega aapse,
Ham vada karte hai aapse.
Ye mat samjhana ki bhul jayege tujhe,
Jindagi bhar sath rahne ka vada hai aapse.
 
मेरी दिल के अंदर से आवाज आती हैं,
हर पल  हमें तेरी याद आती हैं।
दिल कहता हैं हर समय साथ रहूं,
बिन तेरे अब मुझे चैन नहीं आती हैं।।

 

Meri dil ke andar se aawaj aati hai,
Har pal hame teri yad aati hai.
Dil kahta hai har samay tere sath rahu,
Bin tere ab mujhe chain nahi aati hai…
ये इश्क है या मोहब्बत,
मुझे कुछ समझ नहीं आता।
तुझे कैसे रखना हैं,
बस मुझे वहीं है आता।।
Ye ishak hai ya mohabbat,
Mujhe kuchh samajh nahi aata.
Tujhe kaise rakhana hai,
Bas mujhe vahi hai aata…
 
सामने बैठे रहो मेरे पास दिल को करार आयेगा,
जितना देखेंगे हम तुझे उतना ही प्यार आयेगा।
Samne bethe raho mere paas dil ki karar aayega,
Jitna dekhege ham tujhe utna hi pyar aayega.
तेरी एहसास से जुड़ी हुई,
हर एक चीज को हमने संभाल के रखा हैं।
तुझसे जो शुरू हुई हैं दास्तां,
उसका नाम हमने इश्क रखा हैं।।

 

Teri ehasas se Judi hui,
Har ek chij ki hamne Sambhal ke rakha hai.
Tujhase Jo shuru hui hai dastan,
Usaka nam hamne ishak rakha hai…
चाहने वाले तो जिंदगी भर मिलते रहेगें,
लेकिन जो चाहत तुम भूल नहीं पाएगी वो मेरी होंगी।
Chahne wale to jindagi bhar milte ragege,
Lekin Jo chahat tum bhul nahi payegi vo meri hogi.
मेरी जिंदगी के लिए जान हो तुम,
मेरी सुकून का दूसरा नाम हो तुम।
Meri jindagi ke liye jaan ho tum,
Meri sukun ka dusra nam ho tum.
येसा क्या बोलें जो तेरे दिल को छू जाए,
किससे दुआ मांगु की तू मेरी हो जाय।
तुझे पाना नहीं तेरा हो जाना चाहता हूं,
येसा क्या करें कि मेरी मन्नत पूरी हो जाए।।

 

Yesa Kya bole Jo tere dil ki chhu jaye,
Kisase dua mangu ki tu meri ho jaye.
Tujhe pana nahi tera ho Jana chahata hu,
Yesa Kya kare ki meri mannat puri ho jaye…
जिंदगी हर पल कभी खास नहीं होती,
फूलों की खुशबू कभी पास नहीं होती।
मिलना मेरी तकदीर में था,
वरना प्यार भी अधूरी रह जाती।।
Jindagi har pal kabhi khash nahi hoti,
Phulo ki khushabo kabhi pass nahi hoti.
Milna meri takdir me tha,
Varna pyar bhi adhuri rah jati…
 
ख़ुदा जाने मोहब्बत से क्या कसूर है,
जिससे प्यार करते हैं वहीं मुझसे दूर हैं।

 

Khuda Jane mohabbat se Kya kasur hai,
Kisase pyar karte hai vahi mujhase dur hai.
नदी किनारे बैठी हूं कभी तो लहर आएगी,
तेरी इंतजार में बैठी हूं कभी तो मेरी याद आएगी।

 

Nadi kinare bethi hu kabhi to lahar aayegi,
Teri untajar me bethi hu kabhi to yad aayegi.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.