Sad and Love shayari ।


1.   बिना आहट के इन आंखों से दिल में उतरते हो तुम।
      वाह सनम क्या तुम भी लाजवाब इश्क करते हो तुम………!


2.       मुझको चाहते होंगे और भी बहुत लोग,
     मगर मुझे तो मोहब्बत सिर्फ अपनी मोहब्बत से ही है।
                 


3.   हाल तो पूछ लू तेरा पर डरता हूं आवाज से तेरी,
      जब जब मैंने सुनी है कमबख्त मोहब्बत ही हुई हैं ।
             

4.   अदा है, ख्वाब है, तकसीम है, तमाशा है ।
     मेरी इन आंखों में एक शख्स प्यासा और बेतहाशा है।।


5.   मोहब्बत का कोई रंग नहीं फिर भी वो रंगीन हैं,
     प्यार का कोई चेहरा नहीं होता है फिर भी वो हसीन  है।



6.  किसी के लिए किसी का अहमियत खास होती हैं,
    एक के दिल की चाबी हमेशा दूसरे के ही पास होती हैं।

               

7.   न जाने क्या मासूमियत है तेरे चेहरे पर ,
        तेरे सामने आने से ज्यादा…………..
      तुझे छुपकर मुझे देखना अच्छा लगता है ।



8.        ना कर शक मेरी मोहब्बत पर ऐ पगली,
     अगर सबूत देने पर आया तू बदनाम हो जाएगी।



9.   वो पूछते है हमसे, कि क्या हुआ हैं ?
              कैसे बताए उन्हें कि,
             उन्हीं से इश्क हुआ हैं।

               

10.  लगता है मेरा दिल में भी face unlock  हैं ।
       जब तुम saamne आती हो तभी खुलता है ।।



                            Sad shayari

1.         समझने वाले खामोशी भी समझ लेते हैं
    ना समझने वाले लोग जज्बातों का भी मजाक बना देते हैं



 2.         अपनी उसूल यू भी तोड़नी पड़े
 खता ओरो की थी और हाथ हमें जोड़ने पड़े



3.  सिर्फ शब्दो से ना करना किसी वजूद की पहचान
                हर कोई इतना कह नहीं पाता,
       जितना वह समझता और महसूस करता है ।


4.    हर वक्त खुद से ज्यादा रुलाता है वो ।
          हम सपने में  जिसे रोने भी नहीं देते ।।
                   


5.      कितना भी खुश रहने की कोशिश करो
      लेकिन सच में जब कोई याद आता है, न
              तो बहुत रुलाता है ।
           

 6.      पहले चुभा बहुत , अब आदत सी है।
          यह दर्द पहले  भी थी, अब इबादत सी है।।


7.        किरायेदार सी थी तुम्हारी फितरत,
       कभी भी पूरी तरह से मुझे अपना समझा ही नहीं।


8. ये जीवन हैं साहब उलझेगे नहीं तो सुलझेंगे कैसे।  
         और बिखरेंगे नहीं तो निखरेंग कैसे।।


 9.      ए उम्र अगर दम है तो कर दे इतनी सी खता,
         बचपन तो मेरा छीन लिया बचपना छीन कर के बता।


10. अब ना कोई शिकवा, ना गिला, न मलाल रहा ।
                  सितम तेरे भी बेहिसाब रहे ,
                   सब्र मेरा भी कमाल रहा।।

             

11. एक वक्त था जब तेरे ना होने से खालीपन का एहसास था
       अब अलग यू है कि तेरे होने से भी कोई फर्क नहीं पड़ता


12.   मुमकिन नहीं है हर किसी की नजरों में बेगुनाह रहना,
     बस खुद से यह  वादा करो कि अपनी नज़रों में बेदाग रहें।


 13.     यह दुनिया नहीं है मेरे पास तो क्या,
           मेरा यह भ्रम था कि मेरे पास तुम हो।


 14.  खिलाफ  कितने है यह मुद्दा नहीं,
           साथ कितने है यह जरूरी है।



15.    बहुत भीड़ हुआ करती थी महफिल में मेरी,
        फिर मैं सच बोलता गया और लोग उठते गए।

               

16.    इतनी कमजोर ना थी मेरी मोहब्बत,
          याद तो तुझे भी आती होगी…….!



17.     बस एक ही सवाल पूछना है,
             खुश तो हो ना तुम????




                _________शुक्रिया________

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.