Happy Makar Sankranti 2022 Date Subh Muhurat – मकर संक्रांति के साथ वैज्ञानिक महत्व धार्मिक के साथ जानें!

Happy Makar Sankranti 2022 Date Subh Muhurat, मकर संक्रांति के साथ वैज्ञानिक महत्व धार्मिक के साथ जानें! Makar Sankranti 2022 Shubh Muhurt – मकर संक्रांति 2022 शुभ मुहूर्त- 14 जनवरी, धार्मिक के साथ मकर संक्रांति का क्या है वैज्ञानिक महत्व? जानिए रोचक तथ्य

 

Happy Makar Sankranti 2022 Date Subh Muhurat - मकर संक्रांति के साथ वैज्ञानिक महत्व धार्मिक के साथ जानें!
Happy Makar Sankranti 2022 Date Subh Muhurat – मकर संक्रांति के साथ वैज्ञानिक महत्व धार्मिक के साथ जानें!

 

Happy Makar Sankranti 2022 Date Subh Muhurat – मकर संक्रांति के साथ वैज्ञानिक महत्व धार्मिक के साथ जानें!

 

Makar Sankranti 2022 Date: इस बार भी यही भ्रम रहेगा कि मकर संक्रांति 14 या 15 जनवरी को मनाया जाए।

Makar Sankranti 2022 Shubh Muhurt – मकर संक्रांति 2022 शुभ मुहूर्त- 14 जनवरी

 

14 जनवरी को सूर्यदेव का राशि परिवर्तन यानी सूर्य का मकर राशि में गोचर दोपहर 02 बजकर 43 मिनट पर होगा।  इस वजह से 14 जनवरी को गंगा स्नान और सूर्य देव की पूजा का समय सुबह 08 बजकर 43 मिनट से प्रारंभ कर सकते है।

 

Happy Makar Sankranti 2022 Date Subh Muhurat - मकर संक्रांति के साथ वैज्ञानिक महत्व धार्मिक के साथ जानें!
Happy Makar Sankranti 2022 Date Subh Muhurat – मकर संक्रांति के साथ वैज्ञानिक महत्व धार्मिक के साथ जानें!

 

 

Makar Sankranti 2022 पुण्य काल 

 

मकर संक्रांति का पुण्य काल: दोपहर 02 बजकर 43 मिनट से लेकर शाम 05 बजकर 45 मिनट तक 

 

Makar Sankranti 2022 shubh muhurat

 

मकर संक्रांति 2022 शुभ मुहूर्त- 15 जनवरी 

 

सूर्य का मकर राशि में प्रवेश: 14 जनवरी की रात 08 बजकर 49 मिनट पर

 

मकर संक्रांति का पुण्य काल: 15 जनवरी दिन शनिवार को दोपहर 12 बजकर 49 मिनट तक

 

Read also :- मकर संक्रांति 2022 के बारे में

 

 

Makar Sankranti 2022: धार्मिक के साथ मकर संक्रांति का क्या है वैज्ञानिक महत्व? जानिए रोचक तथ्य

 

Makar Sankranti 2022 का पर्व आ गया है। हर साल की तरह इस साल भी मकर संक्रांति 14 जनवरी के दिन मनाई जा रही है। हमारे देश भर में Makar Sankranti (मकर संक्रांति) अलग-अलग नामों और तरीकों से मनाई जाती है।

 

 मकर संक्रांति का पर्व धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक अधिक महत्वपूर्ण होता है। जब सूर्य का एक राशि से दूसरी राशि में प्रवेश करता है, जिसे “संक्रांति” कहा जाता है।

 

 इसी प्रकार सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने को “मकर संक्रांति” के नाम से जाना जाता है। धार्मिक मान्यता है कि मकर संक्रांति के दिन देव भी धरती पर अवतरित होते हैं, आत्मा को मोक्ष प्राप्त होता है, अंधकार का नाश व प्रकाश का आगमन होता है।

 

 लेकिन Makar Sankranti (मकर संक्रांति) का जितना धार्मिक महत्व होता है, उतना ही अधिक वैज्ञानिक महत्व भी होता है। इसके अलावा यहां मकर संक्रांति से जुड़े कई रोचक तथ्य भी हैं। अगली स्लाइड्स में जानिए मकर संक्रांति के वैज्ञानिक महत्व के बारे में, साथ ही मकर संक्रांति से जुड़ी खास बातें। 

मकर संक्रांति का वैज्ञानिक महत्व – makar sankranti ka vaigyanik mahatv

 

makar sankranti के पावन दिन पर लंबे दिन और रातें छोटी होने लगती हैं। सर्दियों के मौसम में रातें लंबी हो जाती हैं और दिन छोटे होने लगते हैं, जिसकी शुरुआत 25 दिसंबर से होती है। लेकिन मकर संक्रांति से ये क्रम बदल जाता है। माना जाता है कि मकर संक्रांति से ठंड कम होने की शुरुआत हो जाती है।

 

मकर संक्रांति का आयुर्वेदिक महत्व – Makar Sankranti ka aayurvedik mahatv

 

धार्मिक और वैज्ञानिक महत्व के अलावा Makar Sankranti का आयुर्वेदिक महत्व भी है। संक्रांति को खिचड़ी भी कहते हैं। इस दिन चावल, तिल और गुड़ से बनी चीजें खाई जाती हैं। तिल और गुड़ से बनी चीजों का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। इन चीजों के सेवन से इम्यून सिस्टम भी मजबूत होता है।

 


makar sankranti 2022

makar sankranti

happy makar sankranti

sankranti 2022

happy makar sankranti 2022

makar sankranti image

sankranti 2022 date

makar sankranti 2022 date

bhogi 2022

makar sankranti wishes

मकर संक्रांति

happy makar sankranti 2022 images

sankranti

bogi 2022

makar sankranti kab hai

sankranti wishes

makar sankranti wishes in marathi

मकर संक्रांति 2022

मकर संक्रांति कब है

happy sankranti

when is sankranti in 2022

makar sankranti rangoli

14 january 2022

मकर संक्रांति की हार्दिक शुभकामनाएं

when is makar sankranti in 2022


Leave a Reply

Your email address will not be published.