दर्द भरी शायरी का दास्तां । Dardnayak shayari in Hindi।

हाय दोस्तों,
आज हम दर्द भरी दास्तां लेकर आए हैं,  दिल में तो प्यार सभी को होते हैं लेकिन कुछ इस तरह भी हो जाते है कि  मजबूरी में लोग चाहकर भी एक नहीं हो पाते हैं ओर इस तरह का दर्द बड़ा ही दर्द नायक होता हैं।

 

Dard Bhari shayari

अपने से भी ज्यादा वो मुझपर विश्वास करती हैं,
हर समय वो मेरी ही चर्चा करती हैं।
कैसे भूल जाऊ मैं उसे,
मुझसे दूर होके भी वो मेरे लिए जीती हैं।।

 

Apne se bhi jyada vo mujhpar visvas karti hai,
Har samay vo meri hi charcha karti hai.
Kaise bhul jau me use,
Mujhse dur hokar bhi vo mere liye jiti hai…

जिनसे मेरा आंखें मिला,
वो बनी मेरी जिंदगी के सिलसिला।
अब उनका बात ही क्या करू,
जब वो मुझे ही ना मिला।।

Jinse mera aakhen mila,
Vo bani meri jindagi ke silsila.
Ab unka baat hi kya karu,
Jab vo mujhe hi na mila

मिलने को जो दिल गया लोटा नहीं आज तक।
अब तो वो रही नहीं जो  रहती थी दिल तक।।

Milne ko jo dil gaya lota nahi aaj tak.
Ab to vo rahi nahi jo rahti thi dil tak…

ये प्यार का नगमा है, इसे कोई नहीं समझता
इश्क में दर्द ही मिलता इसे कोई नहीं जानता।।

Ye pyar ka nagma hai, ise koi nahi samjhata.
Ishak me to dard hi milta ise koi nahi janta…

वो जब भी रोती मुंह मोड़कर रोती हैं,
दिल तोड़ना नहीं चाहती लेकिन तोड़ के रोती हैं।
ख्वाबों में हर पल मुझे सजाए,
वो मुझसे दिल जोड़ के भी रोती हैं।।

Vo jab bhi roti muh modkar roti hai,
Dil todna nahi chahati lekin tod ke roti hai.
Khvabo me har pal mujhe sajaye,
Vo mujhase dil jod ke bhi roti hai…

मीलों का सफर तो एक पल  में बर्बाद हो गया।
जो हम मिलने गया ओर मिल ही नहीं पाया।।

Milon ka safar ek pal me barbad ho gaya.
Jo ham milne gaya or mil hi nahi paya

जो नजर से गुजर जाते हैं, वो सितारे अक्सर टूट जाते हैं।
कुछ लोग दर्द का बयां नहीं करते, बस चुपचाप ही बिखर जाते हैं।।

 

Jo najar se gujar jate hai, vo sitare akshar tut jate hai.
Kuchh log dard ka bayan nahi karte,
bas chupchap hi bikhar jate hai…

 

Love ki dastan

तेरा हर दर्द का एहसास है मुझे,
तेरे प्यार पर नाज है मुझे।
कयामत करे की बिछड़े न हम दोनों,
कल से जायदा भरोसा आज है मुझे।।

Tera har dard ka ehsas hai mujhe,
Tere pyar par naj hai mujhe.
Kyamat kare ki bichhade na ham dono,
Kal se jyada bharosha aaj hai mujhe…

इश्क में आंखों का पानी नहीं निकलना चाहिए।
तेरे दिल में तो सिर्फ मेरी जगह होनी चाहिए।।

Ishak me aakho ka pani nahi niklana chahiye.
Tere dil me to sirf meri jagah honi chahiye…

एक तू ही मेरे दिल में जो करना है हासिल,
बिन तेरे कहीं अब लगता नहीं दिल

 

Ek tu hi mere dil me jo karna hai hasil,
Bin tere ab kahi lagta nahi dil.

कुछ दिनों से देख रहे हैं,
उसे भी मेरी आदत हो गई हैं।
वो मुझसे दो बातें कर नहीं पाई,
और मुझसे मोहब्बत हो गई हैं।।

Kuchh dino se dekh rahe hai,
Use bhi meri aadat ho gai hai.
Vo mujhase do bate kar nahi pai,
Or mujhase mohabbat ho gai hai…

कभी खुशी तो कभी गम हमने देखी,
ओर हमने उसपर मजबूरी ही देखी।
उसकी नाराजगी को क्या समझेगें हम,
उसने तो मुझे अपना ही मान के देखी।।

Kabhi khusi to kabhi gam hamne dekhi,
Or hamne uspar majburi hi dekhi.
Usaki narajgi ko kya samjhe ham,
Usne to mujhe apna hi man ke dekhi..

एक न एक दिन हासिल कर ही लेंगे तुझे,
ठोकरें तो जहर नहीं जो खाकर मर जाऊ

Ek na ek din hasil kar hi lege tujhe,
Thokare to jahar nahi jo khakar mar jau.

प्यार वो एहसास है जो दो दिलों को मिलाता है।
कोई इसे छोड़ देता हैं और कोई इसे निभाता है।।

Pyar vo ehsas hai jo do dilo ko milata hai
Koi ise chhod deta hai or koi ise nibhata hai…

अंदर से खामोशी, बाहर से खुशी देखी,
एक तू ही है,   जो मुझे दिल में रखी।

 

Andar se khamoshi, bahar se khushi dekhi,
Ek tu hi hai jo mujhe dil me Rakhi.

 

Thanks!

Leave a Reply

Your email address will not be published.