Army Shayari। आर्मी शायरी। आर्मी के लिए शायरी। Shayari for Army।

हेल्लो दोस्तों,
       आज हम आप सबके लिए Army Shayari (2020) लाए हैं। यहाँ पर बहुत सारे इंडियन आर्मी के फैन होंगे, इसलिए हम लेके आये है बेस्ट Army Shayari
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~

Army Shayari

~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
वह दिन भी आएगा जिस दिन मिट्टी का कर्ज चुकाऊंगा,
शहीदी मिलेगी शान से और तिरंगे में लिपटकर घर जाऊंगा…!
Army Shayari
Army Shayari
vah din bhee aayega jis din mittee ka karj chukaoonga,
shaheedee milegee shaan se aur tirange mein lipatakar ghar jaoonga…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
कभी ठंड में ठिठुर कर देख लेना,
कभी तपती धूप में जल के देख लेना…!
कैसे होती है वतन की हिफाजत,
कभी सरहद पर चल कर देख लेना…!
kabhee thand mein thithur kar dekh lena,
kabhee tapatee dhoop mein jal ke dekh lena…!
kaise hotee hai vatan kee hiphaajat,
kabhee sarahad par chal kar dekh lena…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
सरहद पर अनेकों फौजी अपना वादा निभा रहा है,
वह धरती मां की मोहब्बत का कर्ज चुका रहा है…!
sarahad par ek phaujee apana vaada nibha raha hai,
vah dharatee maan kee mohabbat ka karj chuka raha hai…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
जब हम तुम खोयी मोहब्बत के किस्सों में खोये थे,
सरहद पर कोई अपना वादा निभा रहा था…!
और वो माँ की मोहब्बत का कर्ज चुका रहा था!!!
jab ham tum khoyee mohabbat ke kisson mein khoye the,
sarahad par koee apana vaada nibha raha tha…!
aur vo maan kee mohabbat ka karj chuka raha tha!!!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
Army status Shayari यहां पढ़ें।
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~

Army Shayari Hindi me

~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
अगर तुम हमारे घर में घुसने की कोशिश करोगे तो हम तुम्हारे घर में घुस के तुम्हे मारेंगे…..!!!
agar tum hamaare ghar mein ghusane kee koshish karoge to ham tumhaare ghar mein ghus ke tumhe maarenge…..!!!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
कुछ नशा तिरंगे की आन का है,
कुछ नशा मातृभूमि की शान का है…!
हम लहरायेंगे हर जगह ये तिरंगा,
नशा ये हिंदुस्तान की शान का है…!
kuchh nasha tirange kee aan ka hai,
kuchh nasha maatrbhoomi kee shaan ka hai…!
ham laharaayenge har jagah ye tiranga,
nasha ye hindustaan kee shaan ka hai…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
सीमा नहीं बना करतीं हैं काग़ज़ खींची लकीरों से,
ये घटती-बढ़ती रहती हैं वीरों की शमशीरों से…!
seema nahin bana karateen hain kaagaz kheenchee lakeeron se,
ye ghatatee-badhatee rahatee hain veeron kee shamasheeron se…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
सिर्फ मर्द ही क्यों औरत भी देश की शान है,
जन्म दिया उसने एक वीर जवान को…!
जिसकी जिंदगी अब देश के नाम है!!!
sirph mard hee kyon aurat bhee desh kee shaan hai,
janm diya usane ek veer javaan ko…!
jisakee jindagee ab desh ke naam hai!!!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
Fauji Attitude Shayari यहां पढ़ें।
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~

Hindi me Army Shayari

~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
अपना घर छोड़ कर, सरहद को अपना ठिकाना बना लिया,
जान हथेली पर रखकर, देश की हिफाजत को अपना धर्म बना लिया…!
apana ghar chhod kar, sarahad ko apana thikaana bana liya,
jaan hathelee par rakhakar, desh kee hiphaajat ko apana dharm bana liya…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
वतन हमारा ऐसा कोई छोड़ ना पाये,
रिश्ता हमारा कोई तोड़ ना पाये…!
दिल एक है हमारा और एक ही जान है,
हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है…!
Army Shayari
Army Shayari
vatan hamaara aisa koee chhod na paaye,
rishta hamaara koee tod na paaye…!
dil ek hai hamaara aur ek jaan hai,
hindustaan hamaara hai ham isakee shaan hai…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
आज़ादी की कभी शाम ना होने देंगे,
शहीदों की कुर्बानी बदनामी ना होने देंगे…!
बच्ची है जो एक बूंद भी लहू की तब तक,
भारत माँ का आँचल नीलाम ना होने देंगे…!
aazaadee kee kabhee shaam na hone denge,
shaheedon kee kurbaanee badanaamee na hone denge…!
bachchee hai jo ek boond bhee lahoo kee tab tak,
bhaarat maan ka aanchal neelaam na hone denge…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
ना झुकाने दिया तिरंगे को, ना युद्ध कभी हारे है,
भरात माता तेरे वीरो ने, दुश्मनों को चुन – चुन कर मारा है…!
na jhukaane diya tirange ko, na yuddh kabhee haare hai,
bharaat maata tere veero ne, dushmanon ko chun – chun kar maara hai…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~

Shayari for Army

~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
ज़िन्दगी जब तुझको समझा, मौत फिर क्या चीज़ है,
ऐ वतन तू हीं बता, तुझसे बड़ी क्या चीज है…!
zindagee jab tujhako samajha, maut phir kya cheez hai,
ai vatan too heen bata, tujhase badee kya cheej hai…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
कभी ठंड में ठिठुर कर देख लेना,
कभी तपती धूप में जल के देख लेना…!
कैसे होती है वतन की हिफाजत,
कभी सरहद पर चल कर देख लेना…!
kabhee thand mein thithur kar dekh lena,
kabhee tapatee dhoop mein jal ke dekh lena…!
kaise hotee hai vatan kee hiphaajat,
kabhee sarahad par chal kar dekh lena…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
करता है तू छिपकर का हमला,
ये तो कायरता की निशानी है…!
क्या भारत इसका जबाब न देगा,
ये समझना तेरी अब नादानी है…!
Army Shayari
Army shayari
karata hai too chhipakar ka hamala,
ye to kaayarata kee nishaanee hai…!
kya bhaarat isaka jabaab na dega,
ye samajhana teree ab naadaanee hai…!
~~~~~—–*****—–*****—–*****—–~~~~~
Desh Bhakti shayari यहां पढ़ें।
तो दोस्तों हमें उम्मीद है कि आप को Army Shayari शायरी पसंद आया होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.