पढ़ाई में दिमाग तेज करने का तरीका – padhai me dimag tej karne ka tarika। Dimag tez karne ka aasan upay।

 पढ़ाई में दिमाग तेज करने का तरीका (padhai me dimag tej karne ka tarika)

पढ़ाई में दिमाग तेज करने का तरीका :- दिमाग तेज करने के लिए आप अक्सर सही खानपान का विकल्प चुनते हैं, जिसमें बादाम (Almond) भी शामिल हैं। लेकिन क्या आप बिना डाइट (Diet) लिए दिमाग को तेज कर सकते हैं। जी हां हम यहां कुछ ऐसे पढ़ाई में दिमाग तेज करने का तरीका (padhai me dimag tej karne ka tarika) के तरीके बता रहे हैं, जो न सिर्फ आपका दिमाग तेज (Brain Sharp) करने में मदद करेंगे बल्कि आपके भूलने की बीमारी (Alzheimer) को भी दूर करेंगे।

     यह तरीके आजमाने में भी काफी आसान हैं। मां-बाप शुरू से बच्चों का दिमाग तेज करने के लिए बादाम जैसी चीजें खाने की सलाह देते हैं। लेकिन कई और तरीके भी हैं, जो आपको नहीं पता होंगे! मेमोरी पावर (Memory Power) हमारे मन की एकाग्रता है। इसी एकाग्रता को बढ़ाने के लिए हम यहां कुछ तरीके बता रहे हैं…!

दिमाग़ को तेज़ करने के लिए तनाव से दूर रहें

कभी कभी आप छोटी छोटी चीज़ें भूल जाते हैं जैसे चाभी कहाँ रखी थी या सुबह नाश्ता किया या नहीं आदि। ये अल्पावधि के लिए चीज़ें भूलने का कारण तनाव हो सकता है। आपके आस पास दिन में लाखों चीज़ें होती हैं और सबको याद रखना मुमकिन नहीं है लेकिन जब ज़रूरी चीज़ों को याद रखना मुश्किल हो जाता है तो मस्तिष्क को उस समय एक चीज़ से दूसरी चीज़ में अदला बदली करने में परेशानी होती है। ऐसा तनाव के कारण होता है। इसलिए जितना हो सके ध्यान करके, मधुर संगीत सुनकर और अपने आपको व्यस्त रखकर तनाव से दूर रहें।

ये चीजें खाकर भी पढ़ाई में दिमाग तेज करने का तरीका (padhai me dimag tej karne ka tarika) कर सकते हैं।

दालचीनी से दिमाग तेज करें

कहने में तो दालचीनी एक मसाला है लेकिन यह जड़ी बूटी की तरह काम करती है। रात को सोने से पहले एक चुटकी दालचीनी पाउडर को शहद के साथ मिलाकर खाएं। इससे मानसिक तनाव दूर होगा और दिमाग तेज होगा। 

तुलसी से दिमाग तेज करें

तुलसी तो लगभग सभी घरों में लगी मिल जाएगी। इसमें मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट मस्तिष्क और हृदय में रक्त प्रवाह अच्छे से करते है। इसी के साथ दिमाग की शक्ति तेज होती है। इसलिए रोजाना तुलसी का सेवन जरूर करें। 

अजवाइन की पत्तियां से दिमाग तेज करें

अजवाइन की पत्तियां में भरपूर एंटी-ऑक्‍सीडेंट होते है, जो दिमाग के लिए एक औषधि की तरह काम करते हैं। अजवाइन, गिलोय, लौंग इन तीनों चीजों को मिलाकर खाने से दिमाग से जुड़ी सभी परेशानियां दूर होती है और वह तेज होता है। 

जायफल से दिमाग तेज करें

जायफल से दिमाग को काफी ताकत भी मिलती है। दूध में चुटकी भर जायफल पाउडर डालकर सेवन करें। इससे दिमाग तेज होगा और कभी एल्‍जाइमर यानी भूलने की बीमारी नहीं होगी।

काली मिर्च से दिमाग तेज करें

काली मिर्च में पाया जाने वाला पेपरिन बीटा इंडोरफिन्स का स्तर बढ़ाता है, जो दिमाग और शरीर की कोशिकाओं को आराम देता है। इसको सेवन से दिमाग तेज होता है और डिप्रैशन की समस्या दूर होती है। 

झपकी लेने से होता है दिमाग तेज

एक जर्मन रिसर्च के अनुसार, जो लोग थोड़ी देर के लिए झपकी लेते रहते हैं उनकी स्मरण शक्ति अन्य लोगों की तुलना में 25 प्रतिशत अधिक होती है। अल्पावधि वाली स्मरण शक्ति मस्तिष्क के ‘हिप्पोकैम्पस’ वाले क्षेत्र में मौजूद होती है। झपकी लेने की आदत इस स्मरण शक्ति को किसी तरह नियोकॉर्टेक्स (मस्तिष्क का वो भाग जिसमें देखने और सुनने की शक्ति मौजूद रहती है) में स्थानांतरित कर देता है जहां ये अधिक समय के लिए सुरक्षित रहते हैं।

दिमाग बढ़ाने के लिए खाएं विटामिन 

चाहे आप अल्जाइमर रोग से पीड़ित हों या आपके पास स्मृति से जुड़ी समस्याएं हो, कुछ विटामिन और फैटी एसिड आपकी इस समस्या के समाधान के लिए बने हैं। विटामिन बी-12, और ओमेगा-3 फैटी एसिड इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

हरी सब्ज़ियां, अंडे, मीट और मछली में विटामिन-बी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। ऑक्सफ़ोर्ड अध्ययन के अनुसार, मछली खाने से होमोसिस्टीन एमिनो एसिड से क्रिया होती है जिसके फलस्वरूप उम्र के साथ मस्तिष्क के विकास में आने वाली रुकावट कम हो जाती है।

बादाम (कई नट्स और बीज) विटामिन ई से भरपूर होते हैं जो याददाश्त कमज़ोर होने से बचाता है। ब्लू बैरीज़ (Blueberries) में फ्लेवोनोइड पाया जाता है जो आपकी स्थान सम्बन्धी स्मृति को सुरक्षित रखती हैं। चॉकलेट में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट भी याददाश्त बढ़ाने में मदद करते हैं। मनोभ्रम (dementia) की सम्भावना कम होती है। इसलिए आज से ही अपने आहार में विटामिन युक्त चीज़ें शामिल कीजिये।

योगासन से पढ़ाई में दिमाग तेज करने का तरीका (yogasan se padhai me dimag tej karne ka tarika)

मेडिटेश के कई फायदे होते हैं। मेडिटेश से दिमाग को तेज किया जा सकता है। योग हमारे दिमाग के एकाग्र करने में सहायक होता है। मेडिटेशन करने से हमारे दिमाग से तनाव दूर होता है और ताजगी आ जाती है। इससे हम किसी भी चीज पर आसानी से ध्यान लगा सकते हैं और किसी भी चीज को आसानी से याद रखने में कामयाब हो सकते हैं।

दिमाग तेज करने का घरेलू उपाय है ब्राहृमी

याददाश्‍त बढ़ाने और बौद्धिक क्षमता में सुधार लाने के लिए ब्राह्मी सबसे बेहतरीन जड़ी बूटियों में से एक है। इसमें बैकोसाइड और सिटग्‍मास्‍टेरोल जैसे कई बायोएक्टिव तत्‍व मौजूद हैं जो न सिर्फ याददाश्‍त में सुधार लाते हैं बल्कि मस्तिष्‍क के कार्य को भी ठीक करते है।

बच्चों का दिमाग तेज करने की दवा

दिमाग तेज करने के लिए कौन सा फल खाना चाहिए

दिमाग तेज करने की आयुर्वेदिक दवा

दिमाग तेज करने के लिए दवा

दिमाग के लिए आहार

दिमाग तेज करने के लिए दवा Patanjali

मस्तिष्क को तेज करने की दवा

दिमाग तेज करने की दवा पतंजलि

दिमाग तेज करने के लिए क्या-क्या खाना चाहिए

याददाश्त तेज करने के घरेलू उपाय

दिमाग तेज करने के लिए क्या करना चाहिए

दिमाग तेज करने के लिए क्या खाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.